स्वास्थ्य मंत्री ने आयुष्मान भारत जन-आरोग्य के तहत गोल्डन कार्ड का किया वितरण, बोले- हर तबके के लोगों तक पहुंच रही स्वास्थ्य सुविधाएं

स्वास्थ्य मंत्री ने आयुष्मान भारत जन-आरोग्य के तहत गोल्डन कार्ड का किया वितरण, बोले- हर तबके के लोगों तक पहुंच रही स्वास्थ्य सुविधाएं

• जिले में अब तक 68343 लोगों का बना गोल्डन कार्ड

• 14 बेड के नए एसएनसीयू भवन का मंत्री ने किया उद्घाटन

• आधुनिक उपकरणों से लैस एसएनसीयू में मिलेगी बेहतर सुविधा

• एसएनसीयू में 24 घँटे मिलेगी सुविधा

सिवान/ 20 फरवरी। जिले के पचरुखी पीएचसी में प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना के तहत बने गोल्डन कार्ड का वितरण शिविर लगाकर कर किया गया। जिसका उद्घाटन सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के द्वारा किया गया। यहां आयुष्मान भारत जन-आरोग्य योजना के तहत करीब 10 लाभार्थियों के बीच गोल्डन कार्ड का वितरण स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने अपने हाथों से किया । वहीं कुल 250 लोगों का कार्ड दिया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार और उसे बेहतर बनाने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में जन-जन तक स्वास्थ्य सुविधाओं को पहुंचाने की कोशिशें लगातार जारी है। समाज के गरीबों वंचितों को उत्थान के लिये इस योजना को लागू किया गया है। आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक सिवान में 68343 लोगों का कार्ड बनाया जा चुका है। 292 लोगों में करीब 18 लाख रुपये का भुगतान किया गया है।

वहीं बिहार में 22 लाख परिवारों के 46.50 लाख लोगों को गोल्डन कार्ड दिए जा चुके हैं। जिसमें योजना के तहत लोगों के ईलाज पर लगभग 102 करोड़ रुपये ख़र्च भी किए गए हैं। सदर अस्पताल में अलग आयुष्यमान वार्ड भी बनाया जाएगा। सरकारी अस्पतालों में रोज 200 से 300 लोगो का इलाज हो रहा है। अब पैसा के अभाव में आभूषण गिरबी नहीं रखना पड़ेगा। इस योजना के तहत साल में 5 लाख रुपये तक का इलाज निःशुल्क किया जाएगा। यह सुविधा पंजीकृत निजी अस्पतालों में भी निःशुल्क मिलेगा। पूरे बिहार 5 करोड़ 85 लाख लोगों को कार्ड बनाया जाएगा। सिवान में 1 लाख 97 हजार 294 की जनसंख्या है। 570 सरकारी 208 निजी अस्पताल को इस योजना से जोड़ा गया है। पंचायत स्तर कैम्प लगाकर कार्ड बनाया जा रहा है। ऐसे लोग जिनका आयुष्मान योजना नाम नहीं है उनके लिए मुख्यमंत्री चिकित्सा सहायता योजना तहत मदद किया जाएगा।  मौके सिवान के सांसद कविता सिंह, पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव, एमएलसी टुन्ना पांडेय, विधायक करणजीत सिंह, विधायक श्याम बहादुर सिंह, पूर्व डॉ देवराज जी, सिविल सर्जन डॉ आशेष कुमार, डीपीएम ठाकुर विश्वमोहन सिंह, डीपीसी इमामुल होदा, आयुष्यमान भारत के प्रमंडलीय समन्यवक संजय कुमार यादव समेत अन्य चिकित्सा कर्मी मौजूद थे।

14 बेड के नवनिर्मित एसएनसीयू भवन का किया उद्घाटन:इसके बाद सदर अस्पताल में नवनिर्मित 14 बेड के एसएनसीयू भवन का उद्घाटन सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने किया। इस मौके पर मंत्री ने कहा कि इस वार्ड के बनने से हर तबके के लोगों को लाभ मिलेगा तथा नवजातों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करायी जाएगी। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व यूनिट के कर्मियों को इसकी सही देखभाल व मेंटेंनेंस का खास ख्याल रखने को कहा। उन्होंने कहा कि यहां मिलने वाली सारी सुविधाएं मुफ्त होगी।एसएनसीयू भवन के अभाव में गरीब तबके के लोगों को इलाज के लिए दर-दर भटकना पड़ता था। साथ ही निजी अस्पताल में इलाज के लिए उन्हें भारी रकम चुकानी पड़ती थी। लेकिन अब उन्हें इन सब से राहत मिलेगी। एसएनसीयू में कुपोषण के शिकार बच्चे या अन्य बीमारियों से ग्रसित बच्चों का सरकारी सुविधा के तहत इलाज किया जाएगा। 24 घंटे सुविधा उपलब्धस्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि यहां 24 घंटे शिशु चिकित्सक एएनएम की तैनाती रहेगी। यह केंद्र गरीब बच्चों के लिए वरदान साबित होगा। यहां उन बच्चों का इलाज किया जाएगा जो जन्म से ही विभिन्न प्रकार की बीमारियों से ग्रसित होते हैं।इस भवन में बच्चों के साथ उसके मां की देख-रेख की अच्छी व्यवस्था की गई है। मां अपने बच्चों को समय-समय पर स्तनपान आदि करा सकेंगी। इस भवन में जच्चा और बच्चा दोनों का खास ख्याल रखा जाएगा।

error: Content is protected !!