बिहार के कद्दावर नेता और लालू के संकटमोचक कहे जाने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) की तबीयत अचानक बिगड़ी,पटना के एम्स में कराया गया भर्ती

 

बिहार के कद्दावर नेता और लालू के संकटमोचक कहे जाने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) की तबीयत मंगलवार को अचानक बिगड़ गई. इसके बाद उन्हें पटना के एम्स में भर्ती कराया गया. मंगलवार शाम को तकरीबन 5 बजे रघुवंश प्रसाद सिंह को AIIMS लाया गया, जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने उन्हें तत्काल एडमिट कर लिया. रघुवंश प्रसाद सिंह के करीबी लोगों के मुताबिक उन्हें एम्स के आइसोलेशन वार्ड (Isolation Ward) में रखा गया है.

 

रघुवंश प्रसाद सिंह के एक बेहद करीबी व्यक्ति ने बताया कि पिछले 2 दिनों से वह बुखार से पीड़ित थे. उन्हें 99 से 100 डिग्री तक बुखार चढ़-उतर रहा था. पिछले 2 दिनों से स्थानीय डॉक्टरों की सलाह पर रघुवंश प्रसाद सिंह बुखार कम करने के लिए Paracetamol की टेबलेट ले रहे थे.

 

मंगलवार सुबह भी उन्हें 99 डिग्री बुखार था. इसके बाद जब रघुवंश प्रसाद सिंह ने एम्स में मेडिसिन के HOD डॉ रवि कीर्ति से बात की तो उन्होंने पटना आने की सलाह दी. उसके बाद शाम पांच बजे जब रघुवंश प्रसाद सिंह अपने गांव से पटना AIIMS पहुंचे तो कुछ शुरुआती जांच के बाद उन्हें आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया.

 

हालत में सुधार

 

रघुवंश प्रसाद के करीबी बताते हैं कि AIIMS में इलाज शुरू होने के बाद उन्हें दुबारा बुखार नहीं आया है और उनकी हालत अब सामान्य है. AIIMS में मेडिसिन के HOD डॉ रवि कीर्ति की देखरेख में ही रघुवंश प्रसाद सिंह का इलाज चल रहा है. वहीं, रघुवंश प्रसाद की बीमारी की खबर से आरजेडी में हलचल मच गई है. रघुवंश प्रसाद सिंह की पहचान केवल पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के तौर पर नहीं, बल्कि लालू परिवार के संकटमोचक के तौर पर भी होती है. ऐसे में उनकी बीमारी की खबर लगते ही पूरी पार्टी में हलचल मच गई. कार्यकर्ता से लेकर पार्टी के शीर्ष पर बैठे नेता भी लगातार AIIMS के डॉक्टरों के संपर्क में हैं.

error: Content is protected !!