एईएस व जेई प्रभावित मरीजों को दी जा रही निशुल्क: एंबुलेंस सेवा 

एईएस व जेई प्रभावित मरीजों को दी जा रही निशुल्क: एंबुलेंस सेवा

 

•निजी एंबुलेंस से आने पर स्वास्थ्य विभाग कर रहा राशि का भुगतान

 

•सारण समेत 11 सबसे अधिक प्रभावित जिलों में वर्तमान में 406 एंबुलेंस हैं मौजूद

 

•सारण में वर्तमान में 37 एंबुलेंस उपलब्ध

 

छपरा। एईएस(एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम) व जेई(जापानी इंसेफलाइटिस) की रोकथाम के मद्देनजर लोगों को निशुल्क: 102 एंबुलेंस की सुविधाएं दी जा रही है। राज्य स्वास्थ्य समिति ने प्रभावित रोगियों को एंबुलेंस सेवा उपलब्ध कराने को लेकर सभी सिविल सर्जन, जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंधक को अपनी निगरानी में इस हालात पर नजर रखने के लिए भी कहा है।

 

सारण समेत 11 जिलों में कुल 406 एंबुलेंस कराये गये हैं उपलब्ध: 

 

राज्य के 11 सबसे अधिक एईएस व जेई से प्रभावित जिलों में रोगियों को कई सुविधाएं के साथ एंबुलेंस सेवा भी दी जा रही है। इन 11 जिलों में वर्तमान में कुल 406 एंबुलेंस मौजूद हैं। इनमें कुल 336 बेसिक लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस व 24 एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस हैं। इसके अलावा मई माह में कुल 46 नये बीएलएस एंबुलेंस इन सभी जिलों को उपलब्ध कराया गया है। कुल 20 एंबुलेंस को बैकअप के तौर पर रखा गया है जो किसी भी आपात स्थिति में इस्तेमाल करने हैं।

 

 

सारण में वर्तमान में 37 एंबुलेंस उपलब्ध: 

 

सारण जिला में वर्तमान में 37 एंबुलेंस उपलब्ध हैं। इसमें पूर्व से 2 एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस व 33 बेसिक लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस उपलब्ध है। वहीं मई माह में 2 नये बेसिक लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस दिये गये है। साथ ही 2 बैकअप बीएलएस एंबुलेंस उपलब्ध हैं जो किसी आपात स्थिति में काम करेंगे।

 

निजी एंबुलेंस के दैनिक भाड़ा हैं निर्धारित:

 

एईस मरीजों के परिवहन के लिए निजी एंबुलेंस का दैनिक भाड़ा निर्धारित कर आवश्यकतानुसार अतिरिक्त एंबुलेंस रखा गया है। एईएस पीड़ित मरीजों को निजी एंबुलेंस या प्राइवेट वाहन की व्यवस्था कर अस्पताल पहुंचने पर निर्धारित दर पर भाड़े के एवज में राशि का भुगतान करना है। इसके लिए 0 से 20 किलोमीटर पर 400 सौ रूपये, 21 से 40 किलोमीटर के लिए 600 रुपये व 41 से 60 किलोमीटर पर 800 रुपये का भुगतान किया जा रहा है। 61 किलोमीटर से अधिक होने पर अधिकतम 1000 रुपये का भुगतान किया जा रहा है। मरीजों के परिजनों को राशि का भुगतान नकद किया जा रहा है।

 

 

 

केयर इंडिया द्वारा 861 इएमटी को मिला प्रशिक्षण: 

 

इन सभी 11 जिलों में 102 एंबुलेंस के लिए प्रतिनियुक्त किये गये इमरजेंसी मेडिकल टेक्निीशियन के प्रशिक्षण के लिए 102 एंबुलेंस पर कार्यरत इएमटी की सूची सेवा प्रदाता से प्राप्त कर स्टेट रिसोर्स यूनिट केयर पटना को उपलब्ध करायी गयी है। कुल 861 इएमटी को प्रशिक्षण दिया गया है।

error: Content is protected !!