कोरोना वाइरस के साथ-साथ बाढ़ पिङितों की मदद में लगे- संगम बाबा

कोरोना वाइरस के साथ-साथ बाढ़ पिङितों की मदद में लगे- संगम बाबा

 

  • स्थानीय जनप्रतिनिधि व प्रशासन की उपेक्षा बाढ़ पिङितों में आक्रोश

 

रिपोर्ट: चंदन कुमार “चंचल”

 

सारण:(तरैंया)- कोरोना को लेकर अभी लोग उबरे भी नही थे। तब तक बाढ के कहर से लोग परेशान। बतादें की तरैंया व पानापुर प्रखंड के लगभग दो दर्जन गांव बाढ की चपेट में बुरी तरह से आ गये हैं। वहीं शुक्रवार को मुखिया संगम बाबा अपने दर्जेनों सहयोगियों के साथ नाव के द्वारा तरैंया प्रखंड के टिकमपुर, आकूचक बाँध, चंचलिया दियर, बनिया हसनपुर व भलुआँ शंकरडिह पूरब टोला के गाँवों में लोगों के बीच बाढ राहत सामग्री पहूँचाने में लगे हुये हैं। वहीं राहत सामग्री वितरण के दौरान मुखिया संगम बाबा ने कहा की जहा एक तरफ कोरोना व लाक-डाऊन से लोग तबाह हैं वहीं दूसरी तरफ बाढ के कहर से परेशान हैं । स्थानीय प्रशासन व स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा लोगों को आश्वासन के सिवा कुछ नहीं मिला है । वहीं लोगो का कहना है की चुनाव के वक्त प्रतिनिधि लोग तो गरीबों का मसीहा खूब बनते हैं लेकिन आपदा के समय पिङितों के बीच से वही जनप्रतिनिधि लापता हो जाते हैं। आज हमें वैसे जनप्रतिनिधि की जरुरत है जो हमारे हर सुख-दुख में हमेंशा साथ दें । वहीं टिकमपुर के बाँध पर सैकड़ों बाढ़ पिङित शरण लिये हुये हैं जिन्हें संगम बाबा ने राहत सामग्री के रुप में आटा, चावल, प्याज, आलू, चिऊरा, मिठा, मोमबत्ती, माचिस, पावरोटी, बिस्किट का सैकड़ों पैकेट वितरण किये । मौके पर छोटू सिंह, टुटु सिंह, राजू पटेल, दिपेश सिंह, अर्जुन राऊत, भीम राऊत वार्ड सदस्य, उमेश साह, मुखिया प्रत्यासी मुकेश साह, रमन सिंह, विक्की सिंह, शहबाज आलम, सत्येंद्र राम, मुकेश सहनी, मनोज ठाकुर, राजेश प्रसाद, कामेश्वर राय, नरेश माँझी, भुट्टू अंसारी, पंकज बाबा, अशोक गुप्ता, प्रमोद बाबा कोंच, अंसार अहमद, द्वारिका प्रसाद, महेश राउत, राजेश सिंह, संतोष राम, गनीफ मियाँ, मैनुद्दीन मियाँ, शकिल मियाँ, रघुनाथ राम मौजूद थे।

error: Content is protected !!