कोरोना काल में चुनावों के लिए गाइडलाइन, बस 5 लोगों को डोर टू डोर कैंपेन की अनुमति

कोरोना काल में चुनावों के लिए गाइडलाइन, बस 5 लोगों को डोर टू डोर कैंपेन की अनुमति

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) और अन्य उपचुनावों (By-Elections) के लिए EC ने गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. इन चुनावों का आयोजन कोरोना काल (Covid-19 Period) के दौरान किया जाना है, इस वजह से आयोग ने कई एहतियाती दिशा-निर्देश जारी किए हैं. इनमें प्रचार अभियान (Election Campaign) से लेकर वोटिंग (Voting), काउंटिंग (Counting) सबसे के लिए नियम बनाए गए हैं.

 

नई दिल्ली:- चुनाव आयोग (Election Commission) ने कोरोना काल (Covid-19 Period) में चुनाव संबंधित नई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. ये गाइडलाइंस बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) और अन्य उपचुनावों (By-Elections) के लिए जारी की गई हैं. अब उम्मीदवार समेत सिर्फ 5 लोग डोर टू डोर कैंपेन में हिस्सा ले सकेंगे. उम्मीदवार जमानत की राशि ऑनलाइन भर सकेंगे. पब्लिक मीटिंग और रोड शो की अनुमति गृह मंत्रालय और राज्यों के कोरोना पर दिशानिर्देशों के अनुसार मिलेगी. इसके अलावा भी चुनाव आयोग ने कई विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए हैं.चुनाव आयोग की नई गाइडलाइंस के मुताबिक अब नामांकन के दौरान उम्मीदवार के साथ सिर्फ दो लोगों और दो गाड़ियों को ले जाने की अनुमति मिलेगी. मतगणना हॉल में 7 से अधिक काउंटिंग डेस्क की इजाजत नहीँ होगी. एक विधानसभा क्षेत्र की काउंटिंग 3 से 4 हॉल में हो सकती है. चुनाव प्रक्रिया के दौरान सैनिटाइजर, ग्लव्स, फेस शील्ड, मास्क, थर्मल स्कैनर का इस्तेमाल होगा. आयोग के मुताबिक-पोस्टल बैलट की सुविधा दिव्यांगों, 80 वर्ष से अधिक आयु के लोगों, कोरोना से संबंधित पंजीकृत नौकरियों में लोगों को दी गई है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारियों द्वारा दिए गए सुझावों और सिफारिशों पर भी विचार

आयोग ने राजनीतिक दलों द्वारा दिए गए विचारों और सुझावों पर विचार किया. उसने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों द्वारा दिए गए सुझावों और सिफारिशों पर भी विचार किया. बयान में कहा गया है, ‘इन सभी पर विचार करने के बाद, आयोग ने तीन दिनों के भीतर व्यापक दिशानिर्देश तैयार करने का निर्देश दिया.’

29 नवंबर को पूरा हो रहा है बिहार विधानसभा का कार्यकाल

बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होगा और अक्टूबर-नवंबर में किसी समय चुनाव कराये जाने की संभावना है. कोरोना वायरस और बारिश के कारण हाल में कई उपचुनावों को टाल दिया गया था. अब तक चुनाव के किसी नए कार्यक्रम की घोषणा नहीं की गई है.

error: Content is protected !!