गांधी एक विचारधारा वैसे ही पत्रकारिता समाज का दर्पण: अधिवक्ता ऋतुराज

गांधी एक विचारधारा वैसे ही पत्रकारिता समाज का दर्पण: अधिवक्ता ऋतुराज

कन्हैया कुमार सिंह कि रिपोर्ट(सारण)

 

मशरक प्रखण्ड मुख्यालय के राजकीयकृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के सभागार में गांधी जयंती समारोह का आयोजन किया गया। मौके पर बदलते परिवेश एवं कोरोना काल मे पत्रकारिता एक चुनौती विषय पर लघु सेमिनार का भी आयोजन हुआ जिसमे डेढ़ दर्जन से अधिक स्थानीय प्रखंड क्षेत्र के पत्रकारों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालय प्रभारी प्रधानध्यापक अरुण कुमार बर्नवाल ने किया। सभी ने महात्मा गांधी के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके बताए मार्गो को अनुसरण कर समाज एवं राष्ट्र को खुशहाल बनाने की बाते कही। सेमिनार में शामिल वक्ता पटना हाईकोर्ट के वकील ऋतुराज सिंह ने कहा की चुनौतियां हमेशा कामयाब सफर में मंजिल तक जाने का मार्ग प्रशस्त करती है। पत्रकारिता लोकतंत्र का स्तम्भ होने के साथ आम जनजीवन एवं व्यवस्था के प्रति सेतु का काम बखूबी करती है । आवश्यकता है पत्रकारिता के आईना को कभी धूमिल नही होने दिया जाए जिससे समाज के सभी वर्ग के लोग अपनी स्पष्ट छवि देख सके। गांधी के विचारधारा की तरह पत्रकारिता के स्वरूप को भी बचाने की जिम्मेवारी भी युवा ग्रामीण पत्रकार साथियो पर आ गई है। एबीपीएसएस के राष्ट्रीय सचिव संजय कुमार सिंह ने पत्रकारों को समाचार को रोचक की तथ्यपरक बनाने की बात कही । उन्होंने खबरों को समाज के सभी वर्गों के उन्नति एवं प्रगति का माध्यम बनाकर मुफ्फसिल पत्रकारिता को चुनौतियों का मुकाबला करने का सुझाव दिया। मौके पर दिनेश कुमार सिंह, संत कुमार सिंह, ओमप्रकाश सिंह , हरिकिशोर सिंह , कुमार प्रमोद , संतोष सिंह , धर्मेन्द्र पांडेय , रोहित कश्यप , हर्षवर्धन सिंह , धर्मेन्द्र सिंह , कन्हैया सिंह , प्रकाश कुमार सहित अन्य ने अपने विचार रखे। धन्यवाद ज्ञापन अरविंद कुमार सिंह एवं रितेश सिंह ने किया

error: Content is protected !!