बाढ़ प्रभावित इलाकों में पीएचसी केन्द्र ने किया 43 लोगों की कोरोना जांच

बाढ़ प्रभावित इलाकों में पीएचसी केन्द्र ने किया 43 लोगों की कोरोना जांच

कन्हैया कुमार सिंह कि रिपोर्ट(सारण)

 

सारण:मशरक (सारण) मौजूदा समय में बिहार बाढ़ और कोरोना दोनों मुसीबतों से लड़ाई लड़ रहा है। बिहार में जनता एक ओर कोरोना की बदहाल स्थिति से परेशान है तो दूसरी तरफ बाढ़ ने लोगों की परेशानियों को बढ़ा दिया है।वही कोरोना वायरस के मामले रोजाना तेजी से बढ़ रहे हैं, वहीं बाढ़ का खतरा भी लगातार बढ़ता जा रहा है। जिसको देखते हुए बिहार सरकार के आदेशानुसार बाढ़ प्रभावित कैम्प में रह रहे लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए मेडिकल कैम्प खोला गया है जहां लोगों की स्वास्थय जांच की जा रही है। जिलाधिकारी सारण सुब्रत कुमार सेन ने शनिवार को प्रखंड कार्यालय परिसर में मीडिया को बताया कि बिहार सरकार के आदेशानुसार बाढ़ प्रभावित इलाकों में कैंपों में रह रहे लोगों का कोरोना जांच भी किया जाएं। जिसके आलोक में पीएचसी प्रभारी डॉ अनंत नारायण कश्यप ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में बहरौली नहर पर जाकर टोटल 43 लोगों की जांच की गई जिसमें सभी जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी। मौके पर प्रभारी डॉ अनंत नारायण कश्यप ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश में बाढ़ राहत कैम्प में कोरोना जांच की जा रही है। साथ ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मेडिकल टीम भी लगाई गयी है जहां लोगों की स्वास्थय जांच की जा रही है और जरूरत की दवाएं भी वहा उपलब्ध करायी गई है। पीएचसी प्रभारी ने बताया कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

error: Content is protected !!