मुख्यमंत्री नीतीश का ऐलान, बाहर से आने वालों के लिए सीमावर्ती जिलों में बनेंगे कैंप

मुख्यमंत्री नीतीश का ऐलान, बाहर से आने वालों के लिए सीमावर्ती जिलों में बनेंगे कैंप

रिपोर्ट:- गोपाल चतुर्वेदी

पटना:- बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों से आ रहे प्रवासी मजदूरों के लिए सीएम नीतीश कुमार ने कैंप बनाने के निर्देश दिए हैं। ये कैंप बिहार के सीमावर्ती जिलों में बनाए जाएंगे। इस कैंप में दूसरे राज्यों से आने वाले मजदूरों को रखा जाएगा। इस कैंप में इनके रहने-खाने और दवा का पूरा इंतजा होगा।बता दें कि लॉकडाउन की घोषणा के बाद देश के के कोने-कोने में फैले बिहार के लोग अपने राज्य लौटना चाहते हैं।

लेकिन लॉकडाउन की वजह से इन्हें सुविधा नहीं मिली जिसके बाद कुछ तो पैदल निकल गए और कुछ वहीं इंतजार करने लगे। इसी बीच शनिवार को एक अफवाह के बाद दिल्ली के आनंद बिहार बस स्टैंड पर लोगों का हूजूम उमड़ पड़ा। जिससे यहां अव्यवस्था की स्थिति पैदा हो गई थी।

इसी बीच उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने इन मजदूरों को भेजने के लिए बसों की व्यवस्था की थी। इसपर बिहार के सीएम ने कहा कि अगर इन मजदूरों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजा गया तो लॉकडाउन का मकसद ही खत्म हो जाएगा। अगर एक भी संक्रमित मरीज शहर से गांव आ गया तो यहां भी संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है. लेकिन लौट रहे मजदूरों को देखते हुए नीतीश कुमार ने सीमावर्ती जिलों में राहत कैंप बनाने की घोषणा की है।

error: Content is protected !!