खत्म हुआ नीतीश कुमार का कैबिनेट बैठक, 64 एजेंडा पर लगी मुहर

खत्म हुआ नीतीश कुमार का कैबिनेट बैठक, 64 एजेंडा पर लगी मुहर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कैबिनेट की बैठक बुलाई थी।मंत्रिमंडल की बैठक बैठक वर्चुअल माध्यम से हुई. सभी मंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कैबिनेट मीटिंग में शामिल हुए. आज की कैबिनेट मीटिंग में एजेंडों पर मुहर लगी है. मीटिंग में 64 एजेंडा पर मुहर लगी है जिसमें तीन विधायी मामले भी शामिल है.

बिहार चुनाव से ठीक पहले नीतीश कैबिनेट ने बिहार में रसोइयों के वेतन में 150 रुपये की वृद्धि की गई है. अगले साल 1 अप्रैल से उन्हें हर महीने 1650 रुपये वेतन के रूप में दिए जायेंगे.

करोना संक्रमण को देखते हुए बच्चो की सिक्योरिटी को लेकर नीतीश कैबिनेट में बड़ा फैसला हुआ है, फैसले के मुताबिक स्कूल बसों में अब सीटों से ज्यादा बच्चे नहीं बैठेंगे. सरकार ने बिहार मोटर गाड़ी नियमावली में संशोधन करने का निर्स्कूणय लिया गया है जहां बस-गाड़ियों में सीट को लेकर बोर्ड लगेगा.

तालीमी मरकज के मानदेय में 1 हजार रुपये प्रतिमाह का इजाफा किया गया है, अब11 हजार रुपये प्रतिमाह मिलेेंगे। किसान सलाहकार के मानदेय में 1 हजार रुपये प्रतिमाह का इजाफा सकिया गया है, अब 13 हजार रुपये मिलेगा मानदेय. विकास मित्रो के मानदेय में 1200 रुपये प्रतिमाह की वृद्धि की गई है,मानदेय वृद्धि का लाभ अप्रैल 2021 से मिलेगा लाभ।

 

नीतीश कैबिनेट ने रसोइयों के मानदेय में बढ़ोतरी का निर्णय लिया है। रसोइयों के वेतन में 150 रुपये की वृद्धि की गई है. 1 अप्रैल से उन्हें हर महीने 1650 रुपये मानदेय दिए जायेंगे. बिहार विधान सभा चुनाव में पहले अंगनबाड़ी सेविका से लेकर विकास मित्रों को तोहफा दिया गया है। मदरसा बोर्ड और संस्कृत बोर्ड के शिक्षकों के वेतनमान में 15 फीसदी की वृद्धि का मिला सौगात .

 

तालीमी मरकज के मानदेय में 1 हजार रुपये प्रतिमाह का इजाफा किया गया है, अब11 हजार रुपये प्रतिमाह मिलेेंगे। किसान सलाहकार के मानदेय में 1 हजार रुपये प्रतिमाह का इजाफा सकिया गया है, अब 13 हजार रुपये मिलेगा मानदेय. विकास मित्रो के मानदेय में 1200 रुपये प्रतिमाह की वृद्धि की गई है,मानदेय वृद्धि का लाभ अप्रैल 2021 से मिलेगा लाभ.

कारगिल चौक,गांधी मैदान से NIT अशोक राजपथ में एलिवेटेड रोड बनाए जाने का रास्ता साफ हो गया है. इसके लिए 422 करोड़ रुपये की मिली प्रशासनिक स्वीकृति. सचिवालय स्पोर्ट्स को अब मिलेगा नया रूप, इसके लिए सचिवालय स्पोर्ट्स फाउंडेशन का गठन की मंजूरी दी गई है। बिजली कम्पनी को मिला 569.64 करोड़ रुपये की स्वीकृति.गांव गांव बिजली पहुचांने में राशि खर्च होगी.

error: Content is protected !!