कोरोनावायरस के खिलाफ आंगनबाड़ी सेविकाओं ने घर-घर जाकर किया जागरूक

कोरोनावायरस के खिलाफ जंग: आंगनबाड़ी सेविकाओं ने घर-घर जाकर किया जागरूक

• बचाव व लक्षणों के बारे में दी गयी जानकारी

• समय-समय पर हाथ धोने की सलाह

• छींकते व खांसते समय टीशू पेपर या रूमाल का करें प्रयोग

छपरा/ 20 मार्च। विश्व में फैले नोवेल कोरोना वायरस के प्रति आमजनों को जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग, आईसीडीएस व अन्य विभागों द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसी बीच जिले के सभी प्रखंडों में आंगनबाड़ी सेविकाओं के द्वारा घर-घर जाकर लोगों को कोरोनावायरस से बचाव के लिए जागरूक किया गया। साथ हीं साथ छह माह से ऊपर के बच्चों का अन्नप्राशन कराया गया। जिसमें बच्चों को पौष्टिक आहार खिलाया गया। बता दें कि कोरोनावायरस को लेकर जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है। इसी बीच आंगनबाड़ी सेविकाओं ने अपने-अपने क्षेत्र के लोगों को इससे बचने तथा लक्षण के बारे में जागरूक करने का निर्देश दिया गया है। सेविकाओं द्वारा महिला-पुरूष तथा किशोर-किशोरियों का हाथ धुलाया गया तथा अपने घर व आसपास में साफ-सफाई करने के लिए प्रेरित किया गया। सेविकाओ ने लोगों से अपील किया कि परिजनों, रिश्तेदारों और मित्रों को जीवनशैली से जुड़ी सावधानियों के बारे में बताएं। पड़ोसियों के साथ मिलकर आपातकालीन स्थिति की योजना बनाएं। बीमारी की स्थिति में संपर्क करने वाले लोगों की सूची बनाएं और साथ के लोगों के साथ साझा करें। 30 सेकेंड्स तक साफ करें हाथसदर शहरी क्षेत्र के सीडीपीओ कुमारी उर्वशी ने बताया कि पानी और साबुन का इस्तेमाल करते हुए हाथों को 30 सेकेंड्स तक रगड़कर साफ करें। खाने के पहले और बाद, शौचालय के इस्तेमाल के बाद अवश्य साबुन से हाथ धुलें। ऐसे सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें जिसमें 60 प्रतिशत एल्कोहल हो।

रोजना इस्तेमाल होने वाले वस्तुओं की सफाई जरूरी: डीपीओ वंदना पांडेय ने कहा कि घर पर जिन वस्तुओं का रोजाना इस्तेमाल हो रहा है। उनकी सफाई रोजाना करें। कुर्सी, मेज, लाइट के स्विच, दरवाजे और हत्थे को घर के सभी लोग इस्तेमाल करते हैं, इन्हें रोजाना साफ करें। बीमार लोगों से मिलने पर परहेज करें। यदि खुद बीमार हैं तो डॉक्टर से मिलने के अलावा बाहर निकलने से बचें। खांसी और जुकाम होने पर टिश्यू का इस्तेमाल करें। परिजनों के साथ कम बैठें।

सेविकाओं ने इन संदेशों पर किया जागरूकता:

• अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोएं या अल्कोहल आधारित हैण्ड वाश, सेनेटाइजर का उपयोग करें

• खांसने, छींकने, खाना पकाने से पहले, पकाने के दौरान एवं बाद में, खाना खाने से पहले एवं शौचालय के बाद एवं जानवरों की देखभाल के बाद हाथों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ़ करें

• छींकते एवं खांसते समय अपना मुँह ढककर रखने, अपनी आँखों, नाक और मुँह को बार-बार छूने से बचने

• अगर किसी व्यक्ति को खाँसी या बुखार हो तो निकट सम्पर्क में जाने से बचें

• किसी बड़े समारोह एवं आयोजन में भाग लेने से बचें

• व्यक्तिगत स्वच्छता के साथ-साथ सार्वजनिक स्थलों की साफ़-सफाई हेतु समुदाय को जागरूक किया जाए

error: Content is protected !!