सारण जिला के सभी प्रखण्ड के, प्रखण्ड अफसरों से डीएम ने विकास योजनाओं पर की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

सारण जिला के सभी प्रखण्ड के, प्रखण्ड अफसरों से डीएम ने विकास योजनाओं पर की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

 

 

 

छपरा:- जिलाधिकारी सारण सुब्रत कुमार सेन की ओर से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान मंगलवार को इसुआपुर प्रखंड कार्यालय में इसुआपुर बीडीओ नलिमा सहाय, सीओ अजय ठाकुर, समेत सभी प्रखंडों के प्रखंड स्तर के सभी अधिकारी मौजूद थे। कोरोना संक्रमण के चलते प्रखंड स्तर के विकास संबंधित कार्य ठप्प होने पर उसमें तेजी लाने और सभी कार्यों की समीक्षा के लिए विडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई। जिसमें जिलाधिकारी ने नये राशनकार्ड बनाने के लिए‌, लिये गये आवेदन पर अविलंब कारवाई करने का आदेश दिया। जिससे लाभुकों को सरकार द्वारा दिया जाने वाला राशन का लाभ मिल सके। कोरोना वायरस के चलते सरकार द्वारा लाॅक डाउन से गरीब परिवारों को सरकार द्वारा अनाज दिया जाना है। विडियो कान्फ्रेसिंग में बीडीओ और सीओ को आदेश दिया गया कि सभी जनवितरण प्रणाली के दुकानदारों द्वारा राशन का वितरण करना है उसके लिए निगरानी व्यवस्था को सुदृढ़ कर राशन बंटवाया जाएं। और जितने भी राशनकार्डधारी जिन्होंने आधार कार्ड जमा नहीं किया है उनके आधार को राशनकार्ड से जुड़वाने की व्यवस्था की जाये, आधार जनवितरण प्रणाली के दुकानदारों के पाॅश मशीन से भी जुड़ जाएगा। पैक्सो से धान खरीदी की बारे में रिपोर्ट की जानकारी लें। वही गेहूं फसल के कटनी के मौसम को देखते हुए किसान सलाहकार को लगाइये। और पुलिस प्रशासन से मिलकर फसल कटनी से लेकर भंडारण की सारी आवश्यकताओं की सेवाएं चालू रखने की व्यवस्था करें। गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल की समस्याओं को समय रहते ही पूरा कर लिजिए। वही शौचालय प्रोत्साहन राशि के लिए जियो टैगिंग में तेजी लाना है। वह शौचालय विहीन जितने भी परिवार है। उनकी इंट्री करा कर उन्हें प्रोत्साहन राशि अविलंब दीजिए। साथ ही पंचायतों में बनने वाले सामुदायिक शौचालय पर तेजी लाए और सोसल डिस्टेंस का पालन करते हुए निर्माण कार्य में तेजी लाने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना पर भी विशेष ध्यान देने का आदेश मिला। सभी प्रकार के पेंशन के जितने भी आवेदन रिजेक्ट पड़ें है। उन पर जांच कर पूरा करवाइये। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जितने भी बाकी किश्तें देनी है। उसे सबके खाते में भेजें। जिलाधिकारी ने सीओ को आदेश दिया कि गर्मी के मौसम में अग्निकांड की घटनाओं में बढ़ोतरी दर्ज हुई है। उनको हर हाल में मुवाअजा देना है। उसमें तेजी लाये। चौबीस घंटों के अंदर ही पीड़ित को मुवाअजा मिल जाना चाहिए। जिलाधिकारी ने विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से कहां कि पंचायतों में बने होम क्वांटिरिन सेंटर पर विशेष नजर रखें। उसमें रहने वालों को दोनों समय का भोजन मिलना चाहिए। उसकी निगरानी करतें रहे। यदि प्रखंड में कुछ भी होता है तो सारी जिम्मेदारी बीडीओ और सीओ की होंगी।

error: Content is protected !!