विदेशी युवा के लिए सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पेज हे छपरा बना सहारा 

विदेशी युवा के लिए सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पेज हे छपरा बना सहारा

 

छपरा शहर मे हंगरी का एक युवक फंस गया जिसने मदद के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया तो वही छपरा के कई युवाओं के द्वारा बनाये गए जिले के अंदर निस्वार्थ सेल्फ हेल्प ग्रुप ‘हे छपरा’ मे बात पहुंची तो ग्रुप एडमिन कुमार शशि ‘सावन’ ने अस्पताल परिसर जाकर विदेशी युवा से मिले और उनकी जरूरत को समझा.

 

बताते चले कि हंगरी से दार्जिलिंग की यात्रा पर निकले विदेशी युवक विक्टर जिको को भारत मे कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. एक ओर जहां कोरोना वायरस के चलते पुरे भारत में लॉक डाउन चल रहा है वही विदेशी युवक भी लॉक डाउन में बिना पोजिटिव रिपोर्ट आये ही उसे छपरा अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड मे रख दिया गया जहां युवक को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसी बीच युवक के लाखो के समान भी चोरी हो गई. वही मदद करने के नाम पर केवल सांत्वना दिया जा रहा था.

 

हे छपरा के शशि बताते है कि विक्टर के ही एक मित्र द्वारा उक्त युवक के बारे में जब पता चला तो स्थिति जानकर आंखे भर गई वही सरकारी व्यवस्था के प्रति नाराजगी भी. फिर भी हिम्मत करके अपने पेज के अन्य साथियों से इस बात को रखी जहां सभी युवाओं मे हर संभव मदद करने के लिए जी जान लगा दी लगातार प्रयास के बाद युवक को आइसोलेशन वार्ड मे ही वह सब सुविधाएं देने का निर्णय लिया गया तो प्रशासन की मदद स उसके चोरी हुए लाखो के समान की बरामदगी भी हो गई.

 

हे छपरा अन्य समाजिक संस्थाओं से अलग कार्य करता रहा है जहां किसी अन्य से बिना किसी मदद की स्वयंसेवकों द्वारा सेल्फ डोनेशन के माध्यम से जरूरतमंद लोगो की मदद करते है परंतु कही दिखावा नही करते चाहे वह रक्तदान हो, स्वास्थ्य सेवा, किसी गरीब परिवार को आर्थिक मदद हो या किसी जरूरतमंद को अन्यान्य सहयोग सभी मे बढ़चढ़ कर मदद करते है.

 

जहां छपरा शहर के बीच समाजसेवी व समाजिक संगठनों की बाढ़ सी आई हुई है वही जरूरतमंद की तदाद भी बढ़ रही है भले ही सोशल मीडिया पर फोटोग्राफी व विडियो से अपनी वाहवाही करते नजर आते है पर धरातलीय हकिकत कुछ और ही होता है. खास किस्म के लोगो के साथ कई प्रतिष्ठानों से चंदा उगाही कर समाजसेवा का ढोंग करते है इसके पिछे बहुत बड़ा रहस्य होता है जो हम शब्दो मे बयां नही कर सकते. फिलहाल हम सभी को देश पर आये संकट कोरोना वायरस से निपटना है सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करते हुए प्रशासन के साथ हर जरूरतमंद लोगो की मदद भी करना है मगर दिखावा नही. हमारा सारण सुंदर सारण का सपने के साथ हे छपरा हर पल ऐसे लोगो की सेवा के लिए कृतसंकल्पित है.

error: Content is protected !!