सम्पूर्ण जनपद में स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन कर गर्भवती महिलाओं और बच्चों का टीकाकरण किया गया, नियमित जांच की गयी और आवश्यक दवायें दी गयी

सम्पूर्ण जनपद में स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन कर गर्भवती महिलाओं और बच्चों का टीकाकरण किया गया, नियमित जांच की गयी और आवश्यक दवायें दी गयी।

 

जनपद में अब तक 382842 व्यक्तियों का थर्मल स्कैनिंग किया गया।

 

वाराणसी। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देशानुसार आज सम्पूर्ण जनपद में स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन किया गया। गर्भवती महिलाओं और बच्चों का टीकाकरण किया गया। नियमित जांच की गयी और आवश्यक दवायें दी गयीं। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (प्रतिरक्षण) डा0 वी0एस0 राय ने ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में संचालित स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस सत्रों का निरीक्षण किया।

बुधवार को कैण्ट रेलवे स्टेशन पर स्पेशल ट्रेन से गुजरात प्रदेश के गांधीधाम से लगभग 1210 यात्री तथा महाराष्ट्र के मुम्बई से लगभग 1197 यात्री आये। आने वाले सभी यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं थर्मल स्कैनिंग चिकित्सीय टीम द्वारा किया गया।

जनपद में मोबाइल वार्ड फ्लू क्लीनिक/डोर स्टेप स्क्रीनिंग का कार्य चिकित्सकीय दलों द्वारा किया जा रहा है जिसमें थर्मल स्कैनिंग भी की जा रही है। आज वाराणसी शहरी क्षेत्र में चिकित्सीय टीमों द्वारा विभिन्न वार्डो में 3669 मरीज देखे गये। जिसमें 49 सामान्य सर्दी, जुकाम, बुखार के लक्षण वाले रोगी पाये गये। उल्लेखनीय है कि लॉक डाउन की स्थिति में मरीजों को हो रही असुविधा को देखते हुये शहरी क्षेत्र के विभिन्न वार्डो में मोबाईल फ्लू क्लीनिक/डोर स्टेप स्क्रीनिंग के माध्यम से क्षेत्रवासियों को चिकित्सकीय सेवाएं उनके क्षेत्र में ही प्रदान की जा रही है। इन मोबाईल वार्ड फ्लू कलीनिकों के बारे में जनसमुदाय तक आवश्यक जानकारी पहुॅचाने के लिये प्रचार वाहन भी लगाये गये है। जिसमें साउण्ड सिस्टम के द्वारा लोगों को मोबाईल क्लीनिक/डोर स्टेप स्क्रीनिंग के बारे में जानकारी दी जा रही है। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्र के 08 ब्लाकों में विलेज फ्लू क्लीनिक/डोर स्टेप स्क्रीनिंग चिकित्सकीय दल का संचालन किया जा रहा है जिसमें आज 16 चिकित्सकीय टीमों द्वारा 3247 मरीजों की स्क्रीनिंग की गयी है। ग्रामीण क्षेत्रों से आज 26 सामान्य सर्दी, जुकाम, बुखार के लक्षण वाले रोगी पाये गये। 05 मरीजों को जांच हेतु सन्दर्भित किया गया। वाराणसी जनपद के क्षेत्रान्तर्गत आज 10436 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गयी। अब तक एल0बी0एस0 एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, होटल, लॉज, मठों, आश्रमों, शहरी एवं ग्रामीण विभिन्न स्थानों तथा विदेशी यात्रियों, सहित कुल 382842 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गयी है। वर्तमान में विभिन्न सरकारी सेन्टरों पर सरकारी कोरोनटाइन में 50 व्यक्ति है। वर्तमान में सर सुन्दर लाल चिकित्सालय बी0एच0 यू0 के मेडिकल कोरोनटाइन में 13, ई0एस0आई0 चिकित्सालय के मेडिकल कोरोनटाइन में 01 व्यक्ति तथा आर0एफ0पी0टी0सी0 के मेडिकल कोरोनटाइन 29 व्यक्ति भर्ती है। पं0 दीन दयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय के आइसोलेसन वार्ड में 24 कोरोना पाजीटिव मरीज भर्ती है। सर सुन्दर लाल चिकित्सालय बी0एच0यू0 के आइसोलेसन वार्ड में 08 पाजीटिव रोगी भर्ती है।जनपद के अब तक कुल 3096 नमूने जांच के लिए लैब में भेजे गये है। 87 नमूने कोरोना पाजीटिव पाये गये, जिनमें से 54 अब निगेटिव हो गये है। 2828 नमूने निगेटिव पाये गये है, 181 नमूनों के परिणाम आने शेष है। फ्लू पीडि़त एवं कोरोना संक्रमण से मिलते जुलते लक्षण वाले व्यक्तियों के लिये अब ई0एस0आई0 हास्पिटल पाण्डेयपुर में अलग से आठ-आठ घण्टों के तीन सिफ्ट में 24 घण्टे ओ0पी0डी0 संचालित की जा रही है, जिसमें चिकित्कीय परामर्श तथा दवायें दी जा रही है। प्रातः 08 से 04 बजे तक चिकित्सकीय परामर्श पर जॉच हेतु नमूना भी लिया जा रहा है। जनपद के अन्य राजकीय चिकित्सालयों में भी फ्लू के लिये अलग से कक्ष अथवा कार्नर स्थापित करते हुये अलग से ओ0पी0डी0 संचालित की जा रही है। आज स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम एवं अग्निशमन विभाग द्वारा 29 हॉट स्पाट क्षेत्रों सहित शहर के विभिन्न हिस्सों में हाइपो क्लोराइड, ब्लीचिंग एवं एण्टीलार्वा का छिड़काव किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आज 08 स्थानों पर एण्टीलार्वा स्प्रे, 25 स्थानों पर सोडियम हाइपोक्लोराइड स्प्रे तथा 02 क्षेत्र में फॉगिंग कराया गया। अब तक 776 स्थानों पर एण्टीलार्वा स्प्रे, 1509 स्थानों पर सोडियम हाइपोक्लोराइड स्प्रे तथा 86 स्थानों पर फॉगिंग करायी गयी है। सार्वजनिक स्थानों, चौराहों पर माईकिंग द्वारा जन सामान्य को क्या करें-क्या ना करें की जानकारी दी जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में भी एण्टी लार्वा स्प्रे एवं ब्लीचिंग छिड़काव के साथ-साथ आशा एवं ए0एन0एम0 द्वारा क्या करें -क्या न करें ! की जानकारी दी जा रही है। स्वास्थ्य केन्द्रों के साथ नगर निगम, पंचायत विभाग, एवं नागरिक सुरक्षा विभाग इत्यादि विभागों द्वारा जनसामान्य को आवश्यक जानकारी एवं सहायता प्रदान की जा रही है। शहर के सार्वजनिक चौराहों पर स्थापित डिस्प्ले तथा सरकारी वाहनों मे लगे साउण्ड हेलर के माध्यम से आवश्यक जानकारी दी जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की टीमों तथा गांव व मोहल्ले में गठित निगरानी समिति के सदस्यों द्वारा होम कोरेनटाइन में किये गये व्यक्तियों की घरों पर आवश्यक जानकारी देने तथा सूचना हेतु पोस्टर चस्पा करने का कार्य किया जा रहा है। सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर हेल्प डेस्क स्थापित किये गये है, जिनके माध्यम से बाहर से आये हुये व्यक्तियों तथा उनके परिजनों को सीधे तथा दूरभाष के माध्यम से सहायता तथा आवश्यक जानकारी दी जा रही है। हेल्प डेस्क के दूरभाष के माध्यम से आशा कार्यकर्तियों से उनके क्षेत्रवासियों के स्वास्थ्य की स्थिति सहित ग्राम में साफ-सफाई, विसंक्रमण, एण्टी लार्वा का छिड़काव, बाहर से आने वाले व्यक्तियों, अधिक दिन से बुखार, खॉसी एवं सॉस लेने में तकलीफ इत्यादि मिलते जुलते लक्षणों की जानकारी ली जा रही है।

error: Content is protected !!