बेमौसम बरसात तथा ओलावृष्टि से किसानो के चेहरे पर छायी मायुशी आर्थिक मुआवजा की उठायी मांग

बेमौसम बरसात तथा ओलावृष्टि से किसानो के चेहरे पर छायी मायुशी आर्थिक मुआवजा की उठायी मांग

 

चकिया / चन्दौली देर शाम बेमौसम बरसात तथा ओलावृष्टि से चकिया तहसील क्षेत्रों के किसानों की खेती को काफी नुकसान हो गया है जिससे किसानों की कमर तोड़ दी वही किसानों ने सरकार से आर्थिक मुआवजा की मांग उठाई है ।

 

चकिया देर शाम जहां पर्वतीय पहाड़ी क्षेत्रों मे तेज चमक तथा बेमौसम बरसात हो गयी है वही अचानक ओलावृष्टि से पहले से ही कोरोना वायरस से परेशान आम लोगों किसानों की कमर तोड़ दी है जिससे किसानों के चेहरे पर मायुशी छायी है ।

चकिया तहसील के फिरोजपुर गांव के किसान राहुल मौर्य ने बताया कि बेमौसम तथा ओलावृष्टि से जहा किसानों की कमर टुट गयी है तथा सब्जी की खेती को काफी नुकसान हो गया है जिसमें किसानों के द्वारा खीरा टमाटर खरबुजा समेत अन्य खेती काफी लागत लगाकर की गयी थी लेकिन ओलावृष्टि से सब्जी की खेती एकदम खत्म हो गयी है वही किसानों ने सरकार से आर्थिक मुआवजा की मांग उठाई है ।

error: Content is protected !!