मोमबत्ती और दिया देकर लोगों को लॉकडाउन के प्रति किया जागरूक

मोमबत्ती और दिया देकर लोगों को लॉकडाउन के प्रति किया जागरूक

 

मोतिहारी-: लॉकडाउन लागू होने से वक्त ऐसा आ गया है। जो कुछ ऐसे गरीब लोग जिन्हें मोमबत्ती, दिया खरीदने के लिए रुपया नहीं है क्योंकि उन्हें पेट पालना भी मुश्किल है इसी को देखते हुए भारत के एकता का मिसाल दुनिया के सामने पेश करने के लिए युवा समाजसेवी संतोष कुमार ने ग्रामीणों के एक साथ मिलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आह्वान पर अनोखा पहल किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से 5 अप्रैल की रात में नौ बजे 9 मिनट तक लाइट बुझाकर दीप जलाने का आह्वान किया है। पीएम की इस अपील पर पताही प्रखंड के युवा समाजसेवी संतोष कुमार ने अपनी निजी कोष से बेसहारा घरों में जाकर मोमबत्ती, माचिस का पैकेट वितरण किया। और मोमबत्ती, दीया जलाकर कोरोना को हराने का संकल्प लिया।

 

 

युवा समाजसेवी संतोष कुमार ने घर-घर में जाकर लोगों से अपील किया कि घर के दरवाजे व बालकनी में दीया जलाकर मोदी की अपील को अवश्य आत्मसात करें। लोगों को इसके लिए प्रेरित करते हुए लोगों को घर में रहने की अपील करते हुए कोरोना के प्रति जागरूक किया। पताही प्रखंड के युवा समाजसेवी संतोष कुमार ने कहा की पताही प्रखंड क्षेत्र में गरीबों के घरों पर जाकर मोमबत्ती सलाई का वितरण किए हैं और सबको जागरूक किए हैं कि आप लोग अपने घर के सामने में लाइट बन्द करके मोमबत्ती जलाएं और दीप जलाएं उन्होंने कहा कि दीप सामूहिक रूप से जलाए जाएं तो वातावरण में व्याप्त नकारात्मक शक्तियों का नाश करता है। मोदीजी ने आह्वान किया है तो सभी लोग जागरूक रहें। दीया जलाकर कोरोना को हराने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि घर के दरवाजे व बालकनी में दिया जलाकर कोरोना को हराने का संकल्प लिए हैं। और लोगों को घर में रहने की अपील करते हुए जागरूक किये हैं। मोदीजी ने आह्वान किया है तो सभी को उसका पालन करना चाहिए क्योंकि इससे कोरोना संकट से काफी हद तक निजात मिल सकती है।

error: Content is protected !!