कैलाश मन्दिर शिखर को तोड़े जाने की बातें अफवाह :रवीन्द्र जायसवाल।

कैलाश मन्दिर शिखर को तोड़े जाने की बातें अफवाह :रवीन्द्र जायसवाल।

 

श्री काशी विश्वनाथ मन्दिर में नित्यप्रति सप्तऋषि आरती विद्वान अर्चकों द्वारा की जा रही है।

 

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर तथाकथित विपक्षियों व कुछ अर्चकों द्वारा तूल दिया। विवाद पूर्णतः निरर्थक है कुछ विपक्षी पार्टी के लोगों द्वारा कहा गया कि मंदिर परिसर में कैलाश मन्दिर के शिखर को तोड़ने की अफवाहें पूर्णतः गलत है- रविंद्र जायसवाल।

 

      वाराणसी। उत्तर प्रदेश के स्टांप एवं पंजीयन शुल्क राज्यमन्त्री (स्वतंत्र प्रभार) रवीन्द्र जायसवाल ने सोमवार को विश्वनाथ कॉरिडोर में स्थित कैलाश मंदिर का निरीक्षण किया। ज्ञात हो कि विगत दिनों कुछ विपक्षियों के द्वारा कैलाश मन्दिर के शिखर को तोड़े जाने की गलत सूचना प्रचारित की थी। यह मामला तब का था जब कुछ अर्चकों ने सड़क पर सप्तऋषि आरती का आडम्बर किया था, जबकि मन्दिर में नित्यप्रति सप्तऋषि आरती विद्वान अर्चकों द्वारा की जा रही है उन्होंने कहा श्री काशी विश्वनाथ मंदिर तथाकथित विपक्षियों ने कुछ अर्चकों द्वारा तूल दिया। विवाद पूर्णतः निरर्थक है कुछ विपक्षी पार्टी के लोगों द्वारा कहा गया कि मंदिर परिसर में कैलाश मन्दिर के शिखर को तोड़ने की अफवाहें पूर्णतः गलत है। आज मौके का मुआयना करने के दौरान देखा मंदिर पूरी तरह सुरक्षित है। कमिश्नर व मुख्य कार्यपालक अधिकारी के साथ बैठक की, चूँकि कुछ लोगों की इसे राजनैतिक रोटियां सेंकने का आधार बनाया, जबकि सच्चाई कुछ और बयां कर रही है फैलाई जा रही अफवाहें निरर्थक हैं और बाबा के इस पावन धाम की छवि को धूमिल करने का प्रयास है।

error: Content is protected !!