आर एस ए का 13 वर्षों का संघर्ष केवल छात्र- हित में

छपरा : शुक्रवार को आर एस एस के 13वा स्थापना दिवस गंगा सिंह महाविद्यालय छपरा में धूमधाम से मनाया गया। 13 वर्ष के संघर्ष को याद किया गया 13 वर्षों में केवल छात्रों के मुद्दों के लिए संगठन के कार्यकर्ता लगातार संघर्ष करते रहे हैं। 13 वर्षों के संघर्ष पर संतोष व्यक्त किया गया। साथ में आगे भी पढ़ाई के साथ लड़ाई को जारी रखने का निर्णय लिया गया। आर एस ए के सभी इकाइयों को भंग कर दिया गया। नई इकाई का घोषणा इसी माह में होगा। स्थापना दिवस के अवसर पर “उच्च शिक्षा परिसर से नदारद होते छात्र-छात्राएं ” विषय पर संगोष्ठी रखा गया था । इस अवसर पर शिक्षक नेता समरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि कक्षाओं मेें पढ़ाई जाने वाली विषयवस्तु रोजगार परक नहीं है, इसीलिए तमाम छात्र-छात्राएं दाखिल ले लेते हैं और सिर्फ परीक्षाओं में शामिल होने आते हैं। इस बीच वह किसी अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में लगे रहते हैं।कैंपस में आए दिन होने वाली मारपीट और छेड़खानी की घटनाएं माहौल को असुरक्षित बना रही हैं। तमाम छात्र-छात्राएं इसे लेकर सशंकित हैं। कक्षाओं के चलने की सुनिश्चितता न होने के कारण भी विद्यार्थियों की संख्या कम रहती है।

तमाम विद्यार्थी सुदूर ग्रामीण इलाकों से हैं, जिससे वे प्रतिदिन कक्षाओं में नहीं आ पाते। क्लासरूम की बदहाली बड़ी वजह है जिससे छात्र कक्षाओं में नहीं जाते।विद्यार्थियों को सीट खुद साफ कर बैठनी पड़ती है। महाविद्यालयों में ब्लैकबोर्ड भी स्तरीय नहीं हैं। उन पर लिखी बातें विद्यार्थियों को दिखाई ही नहीं देती हैं क्यों कि लंबे समय से उन्हें साफ नहीं किया गया है। अगर इन मूलभूत सुविधाओं को सुदृढ़ कर लिया गया तो कैंपस में छात्र-छात्राएं पढ़ने के लिए आने लगेंगे।कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन से किया गया।अतिथियों का स्वागत खुशबू को कुछ देख कर किया गया स्वागत गीत करुणा बिहारी के द्वारा गाकर किया गया। बैठक की अध्यक्षता संगठन के पूर्व संयोजक डॉ हरिमोहन कुमार पिंटू ने किया। मंच का संचालनशिवानी पांडे एवं मनीष पांडे मिंटू ने किया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शिक्षक नेता इंदरजीत महतो,डॉक्टर हरिमोहन कुमार पिंटू, डॉक्टर विकास सिंह कुरवंशी, मनीष पांडे मिंटू, उज्जवल कुमार सिंह,गुलशन यादव रूपेश यादव, राहुल यादव,विशाल सिंह, अमन प्रताप सिंह,अंशु कुमार,गोलू कुमार,छोटू कुमार विवेक कुमार विजय, दीपा पांडे,शिवानी पांडे, करुणा बिहारी, जिया सिंह,कुंदन पासवान, अरमान खान, भूषण सिंह समेत सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

error: Content is protected !!