सारण के छपरा विधानसभा के ग्राम पंचायत टेकनिवास के ग्राम पचपतरा ग्रामवासियों को नाले के पानी में चलने को मजबूर.

 सारण के छपरा विधानसभा के ग्राम पंचायत टेकनिवास के ग्राम पचपतरा ग्रामवासियों को नाले के पानी में चलने को मजबूर

 

सारण के छपरा विधानसभा के ग्राम पंचायत टेकनिवास के ग्राम पचपतरा ग्रामवासियों को नाले का पानी में चलने को मजबूर. यहाँ के लोग अपने आपको गौरवशाली समझते हैं यह गौरव प्राप्त हुआ है कुछ व्यक्ति विशेष लोगों से जो कि समाज को जातीय समीकरण में अपने निजी लाभ के लिए बाट कर रखे है ताकि उनकी दुकानें चलती रहे लेकिन मैंने सोचा है कि इस बात को ग्राम वासियों के समुख रखा जाए ताकि आने वाले बिहार विधानसभा के चुनाव न में ये विशेषश ध्यान दे की इस गाँव में विकास नहीं तो वोट नहीं क्यों की पिछले 7 वषोॅ से ऐसे ही नाला का पानी सड़क पे बहने के लिए छोर दिया गया है। यहाँ के लोगो द्वारा चुना हुये बिधायक द्वारा इस बारे में कभी संज्ञान नहीं लिया गया। जब की ये सड़क करीब चार गांव को जोड़ता है।

यहाँ के लोगो ने आज यह प्रण लिया है की जब तक नाला का निकास नहीं होगा तब तक किसी भी प्रत्याशी को वोट नहीं करेगे.

error: Content is protected !!