इसुआपुर(सारण) तूल पकड़ता जा रहा प्रधानमंत्री आवास योजना के राशि के अवैध निकासी का मामला

इसुआपुर(सारण) तूल पकड़ता जा रहा प्रधानमंत्री आवास योजना के राशि के अवैध निकासी का मामला

 

रिपोर्ट-पुर्नवासी यादव

 

सहवा के आवास सहायक ने रुक्मणि देवी पर फर्जीवाड़ा कर सरकारी राशि लेने का आरोप लगाते हुए स्थानीय थाना में एक आवेदन दिया है, वही बैंक ने डाटरा पुरसौली के समृद्धि से लिये सीएसपी को ब्लॉक कर दिया है,

बताते चले कि सहवा के रुक्मिणी देवी ने थाना में एक प्रथमिकी दर्ज कराते हुए सीएसपी के ब्रांच से बिना उनके सहमति के राशि चेक करने के नाम पर 20 हजार विश्वकर्मा साह के खाते में ट्रांसफर कर दिए जाने और 20 हाजर नगद निकासी के बाद भी भुगतान नही किये जाने की शिकायत की , जांच के बाद पुलिस ने इस मामले को सही बताते हुए प्रखंड के एक मुखिया के भाई सहित 3 लोगो को नामजद किया, मामला पुलिस के पास पहुचंते ही उक्त 40 हजार की राशि रुक्मिणी देवी के खाते में जमा भी करा दिए गए, इस मामले में रुक्मिणी देवी का कहना है की मुखिया के एजेंट 15 सौ रुपया लेकर आवास योजना का लाभ दिलाने के लिए लिया था, परन्तु जब राशि की निकासी होने के बाद राशि नही मिली तो इसके शिकायत के बाद पुराने आवास का हवाला देकर हमारे आवास योजना की राशि लौटाई गयी, वही इस मामले में *सहवा के आवास सहायक संजय चौधरी ने बताया कि रुक्मणि देवी के पति संतलाल के नाम पर वर्षो पूर्व आवास की राशि उठी है जिसका हवाला देतें हुए उनके इस योजना को रद्द किया गया है, आवास सहायक ने बताया कि रुक्मणि देवी स्वयं शपथ पत्र में झूठी जानकारी देकर सरकारी राशि के लाभ के लिए उन्हें गुमराह किया है , की जांच की जिम्मेवारी किसकी है,व जब बीडीओ ने 25 अप्रैल कोही पैसा रोकने का पत्र दिया तो राशि कैसे निकासी हुई, और ट्रांसफर कैसे हो गया, इस सवाल के जबाब में सीएसपी संचालक बिनय कुमार ने बताया की रुक्मणि देवी के कहने पर उनके खाते से 20 हाजर की राशि बिसकर्म साह के खाते में ट्रांसफर किया गया था, और 20 निकासी की गई थी और पत्र आने के बाद उसे रीकवर किया गया है, इधर बीडीओ ने बताया कि प्रखंड के सभी सीएसपी की भूमिका संदिघड़ है, और इसके जांच के लिए जिला प्रशासन से आग्रह किया गया है, बीडीओ नीलिमा सहाय ने बताया कि किसी भी स्थिति में किसी के खाते में पैसा ट्रासफर करना अनुचित है, _जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी_ , इधर थानाध्यक्ष अशोक कुमार दास ने बताया कि पुलिस मामले की गहन जांच कर रही है, और कोई भी दोषी बक्सा नही जाएगा।

 

कौन है बिश्वकर्मा साह..? एक दिन में सीएसपी के खाते में स्थान्तरित हुए 1 लाख से ज्यादा रुपया।

 

इसुआपुर(सारण) आवास योजना की राशि जिस खाते में स्थान्तरित हुआ वो बिश्वकर्मा साह कौन है यह बड़ा सवाल बना हुआ है , बिश्वकर्मा साह प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी यमुनी देवी, दुर्गा देवी, कांति देवी और शिवाजी महतो के नाम 25 अप्रैल को ही 20 हजार और 10 हजार कर के एक लाख रुपये स्थान्तरित हुए है, उसी खाते में रुक्मिणी देवी के भी 20 हजार रुपये स्थान्तरित होने और पुनः जमा होने के प्रमाण है, *सीएसपी संचालक की माने तो रुक्मिना देवी के कहने पर यह राशि स्थान्तरण किया गया तो बड़ा सवाल यह है कि आखिर अन्य लाभुकों के पैसे किनके कहने पर और क्यो स्थान्तरित किये गए , जिला प्रशासन अगर इस मामले की गंभीरता से जांच करे तो सरकारी राशि दुरुयोग का *बड़े नेटवर्क का खुलासा तय है इसी मामले को ले इसुआपुर प्रमुख प्रतिनिधि अजय राय और पोर्टल पत्रकार पूर्णवासी यादव के खिलाफ मुखिया संगम बाबा ने मानहानि का मुकदमा दर्ज करने के लिए इसुआपुर थाना में आवेदन दिया लेकिन दिए लेकिन इस घटना में अजय राय और पूर्णवासी यादव की कोई संलिप्ता नही पाई गई वही इस रिपोर्ट के आधार पर पूर्णवासी यादव ने कहा कि वो संवादसूत्र है और वो अपना काम निष्पक्षता से करना पसंद करते है और गर्व है कि उनका कलम बिकाऊ नहीं है प्रमुख पति अजय राय ने कहा कि csp को सरकारी राशि गबन करने की नीयत से मुखिया के दरवाजे पर संचालित किया जा रहा था जिसकी शिकायत पूर्व में समृद्धि को किया गया पिछले 7 वर्षों से यह ग्राहक सेवा केन्द्र का संचालन संदिग्ध है और इसका गलत रूप से उपयोग किया गया है

error: Content is protected !!