अतिवृष्टि के कारण हुए फसल क्षति का किसानों को मिलेगा मुआवजा,खेतो की होगी आकलन

रिपोर्ट:आनंद कुमार राय

अमनौर(सारण)प्रखण्ड मुख्यालय के सामुदायिक सभागार में  अतिवृष्टि के कारण हुए फसल क्षति का आकलन को लेकर एक आवश्यक बैठक हुई।बैठक की अध्यक्षता बीडीओ मंजूल मनोहर मधुप ने किया। जिसमे मुख्य रूप से डीआरडीए निदेशक जनार्धन अग्रवाल,सीओ मृत्युंजय कुमार,कृषि पदाधिकारी नवल किशोर सिंह,समेत सभी कृषि सलाहकार,आवास सहायक, राजस्व कर्मचारी शामिल थे।डीआरडीए निदेशक ने कहा कि प्रखण्ड के बिभिन्न क्षेत्रो में अति वृष्टि के कारण कई खेतो में फसल नही उगाई गई है,वही जहा फसल उगाई गई है वहा अधिक पानी लगने के कारण फसल नष्ट हो गई है।कुछ खेतो में पानी लगने के बाद पानी का निकासी होने से फसल बच जाते है।इस अनुसार फसल क्षति सम्बन्धी सही आकलन करने की आवश्यकता बताया।उन्होंने कहा कि वर्षा बृष्टि से किसान के हुए फसल क्षति या फसल नही बोई गई हो वैसे किसान को रिपोर्ट के अनुसार एनडीआरफ के नियमानुसार फसल की कम से कम 33 % क्षति होने पर उन्हें कृषि इनपुट अनुदान उपलब्ध कराई जा सकती है।उन्होंने कृषि पदाधिकारी को निर्देश दिया कि कम समय मे सर्वेक्षण की रिपोर्ट उपलब्ध कराई जाय।जिससे किसानों को मुआवजा समय पर दिया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!