Palamu violent clash between two communities over construction of torna gate for shivratri

रिपोर्ट – नील कमल

पलामू. पलामू के पाकी में शिवरात्रि का तोरण द्वार बनाने को लेकर दो समुदायों में विवाद हुआ. विवाद ने देखते ही देखते हिंसक रूप ले लिया. इस दौरान दोनों तरफ से जमकर पत्थरबाजी हुई. इस बीच किसी ने पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को खदेड़ कर लोगों को भगा दिया. पत्थरबाजी में दोनों तरफ से लोग घायल हुए हैं. वहीं, पुलिस जवानों को भी चोट आई है.

धारा 144 को किया गया लागू

इलाके में धारा 144 अंतर्गत निषेधाज्ञा लगा दी गई है. मौके पर उपायुक्त आंजनेयुलू दोड्डे, एसपी चंदन सिन्हा मौजूद है. सैकड़ों की संख्या में पुलिस बल कैंप कर रहा है. अलग बगल थानों से भी पुलिस बल बुलाई गई है. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है. प्रशासन ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. साथ ही किसी भी प्रकार के अफवाह पर ध्यान नहीं देने को कहा है. वहीं, सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की चैतावनी दी गई है. प्रशासन ने जिला नियंत्रण कक्ष हेल्पलाइन नंबर 06562-228008 तथा 9065016304 जारी किया है.

दोनों पक्षों में हुई कहासुनी

दरअसल, पाकी के राहेवीर पहाड़ी स्थित शिव मंदिर पर हर साल शिवरात्रि में मेला का आयोजन किया जाता है. इसके मद्देनजर पहाड़ी से नीचे तोरण द्वार बनाने को लेकर विवाद हुआ. पहाड़ी के नीचे रहने वाले समुदाय विशेष के लोगों ने तोरण द्वार बनाने पर आपत्ति जतायी. इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में कहा सुनी हुई और मामला बढ़ते-बढ़ते हिसंक रूप ले लिया.

इधर, पाकी विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक डॉ शशिभूषण मेहता ने भी दोनों पक्षों के लोग को समझाने का प्रयास किया. विधायक ने कहा कि शांति भाईचारा बना कर रहे. किसी तरह का कोई विवाद आपस में नहीं होना चाहिए.

Tags: Jharkhand news, Palamu news

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer