हम हारे नहीं हमें हराया गया है धर्मेंद्र कुमार सिंह।

छपरा एनडीए की हार की समीक्षा करते हुए एनडीए एमएलसी प्रत्याशी धर्मेंद्र कुमार सिंह ने आज प्रेस वार्ता करते हुए पत्रकारों को बताया कि हम हारे नहीं हैं हमारे पार्टी के ही एक सारण के वरिष्ठ नेता के इशारों से हमारे सभी मतदाताओं को दबाव बनाकर एनडीए प्रत्याशी को वोट नहीं करने को कहा गया था। सभी एनडीए समर्थक मतदाता से भाजपा द्वारा निकाले गए निर्दलीय प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने का दबाव बनाया गया था। एमएलसी चुनाव के परिणाम के बारे में बताते हुए श्री सिंह ने बताया कि एनडीए बड़ी पार्टी है और आरजेडी को को दूसरा स्थान प्राप्त होता है राजग के सभी पदाधिकारी वरिष्ठ नेता एवं सदस्य ने मिलजुल कर एनडीए के जीत दिलाने में एकता के साथ चुनाव में लगे वही वही हमारे सारण जिला में 70% जनता और जनप्रतिनिधि एनडीए समर्थक हैं लेकिन एनडीए को मात्र 5 प्रतिशत ही वोट प्राप्त हुए क्यों ये जांच का विषय है । जब को चुनाव में सभी प्रत्याशी अपने स्तर से जो होना चाहिए वो किए । वही प्रयास हमने भी किया हर प्रखंड के मतदाता तक पहुंचे।ऑर जो लहर थी वो हमारी एनडीए की लहर थी जीत ही नहीं प्रचण्ड जीत होती लेकिन पार्टी के सत्ता धारी वरिष्ठ नेता के और उनके समर्थकों के गलत नीति के कारण एनडीए की हार हुई है। जिसकी जांच होनी चाहिए और वैसे वरिष्ठ नेताओ के संबंध में भाजपा के केंद्र में बैठे आलाधिकारियों हमलोग हार की समीक्षा पत्र भेज रहे है। जिससे 2024 में लोक सभा के चुनाव में एनडीए की पीठ मे छुरा नहीं घोपा जाए ।इसके लिए ऐसे नेताओं को जांच कर उचित करवाई हो ताकि सभी वैसे दागा बाजी नेताओ को सबक मिल सके और पार्टी मजबूत हो ।

error: Content is protected !!